समर्थक

शनिवार, 18 मार्च 2017

चुप्पी

चुन-चुन कर मार दिए जाएँगे
आज के दौर में
बोलने वाले?

जो चुप हैं
वे तो मरे हुए हैं ही!.

@ऋषभदेव शर्मा
------------------------

कोई टिप्पणी नहीं: