समर्थक

सोमवार, 6 अगस्त 2012

मेखला कन्यका (नदी)


 मेखला कन्यका 
('नदी' का तेलुगु अनुवाद )

हिंदी मूल -  डॉ. ऋषभ देव शर्मा  * तेलुगु अनुवाद -  डॉ. भागवतुल हेमलता 

                                           

गलगला पारुतु गलिबिली चेस्तु
निंडुतनम तो उरकलु वेस्तु
उद्रेकं तो एगसी पडेटि 
मेखला कन्यका नीवे नीवे. 


चेट्टु चेमलु चील्चुकुनि
कोंडा शिखरलू कूल्चुकुनि
पृथ्वी पुशितमु पेकलिंचे
प्रफुल्ल गमनवु नीवे नीवे.


उल्लासम तो उत्साहम तो
पोंगारेटी पोंकमु तोटी
प्रमोदमंदुतु परवडि त्रोक्के
मुग्ध मुदितवु नीवे नीवे.


कानन भूमुलु, मरुस्थलम्मुलु
दाटुतु उरुकुतु जलनिधि चेंतकु
मदि निंडिन नी कोरिक तीरगा
निंडु प्रेमतो चेरे नीवु .

गलगला पारे मेखलवु .




नदी

तुम नदी
छलछलाती
आवेग में उद्दाम !

चट्टानों को फोड़ दिया
काट दिए पर्वतों के शिखर
तराश दिया
धरती का सीना;
पानी की धार !
उमंग से,
उल्लास से,
आनंद से भरपूर !

फलांगती जंगल
लांघती मरुथल
आ गईं समुद्र तक
समा गईं प्यार से,
हुईं पूर्ण काम !

तुम नदी
आवेग में
छलछलाती उद्दाम ! 

('प्रेम बना रहे' - पृष्ठ 13)

कोई टिप्पणी नहीं: